प्रेम प्रसंग में हुई थी युवक की हत्या

हत्या में शामिल चार अभियुक्त हुए गिरफ्तार

मदनपुर, देवरिया। मदनपुर थाना क्षेत्र के बराव में हुए युवक की हत्या का पर्दाफाश मंगलवार को पुलिस ने कर दिया। इस हत्याकांड में शामिल चार अभियुक्तों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह हत्या प्रेम प्रसंग में हुई थी। मदनपुर थाना क्षेत्र के बराव में दो दिन पहले संदीप नामक एक युवक की गला रेत कर हत्या कर दि गयी थी। पुलिस ने मंगलवार को हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के मुताबिक संदीप का गांव की ही एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस घटना को युवती के दो सगे भाइयों सहित चार लोगो ने मिल कर अंजाम दिया था। पुलिस ने चारो अभियुक्तों को सेमरा पुल के पास से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इस घटना में प्रयुक्त हथियार को भी बरामद कर लिया है।
घटना के अनावरण के संदर्भ में एसपी डाँ.श्रीपति मिश्र ने बताया कि मदनपुर थाना क्षेत्र के बरांव निवासी संदीप (24) को 17 जनवरी की रात शराब पिलाकर गांव के पोखरे के समीप उसकी गला रेत कर हत्या कर दि गयी थी। इस मामले में मृतक के भाई दीपक कुमार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर पुलिस टीम छानबीन कर रही थी। एसपी डाँ.श्रीपति मिश्र ने बताया कि जांच के दौरान संजय मद्धेशिया एवं दो अन्य लोग तथा संदीप और पवन गुप्ता के परिवार के सदस्यों से पूछताछ की गयी। इस पूछताछ में जानकारी मिली कि संदीप का गांव की एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इस प्रेम प्रसंग का विरोध युवती के भाई पवन व महेन्द्र कर रहे थे। पवन और महेन्द्र ने अपने दो दोस्तो सूरज यादव और राजू के साथ मिलकर उसको सबक सिखाने की बात कही,और योजनाएं बनाई। सूरज यादव और राजू ने शराब खरीदी और संदीप को भी पिलाई। नशे की हालत में उसे लेकर वो लोग गांव की पोखरी पर पहुंचे । वही पवन और महेन्द्र भी पहुंच गये। चारों ने संदीप की गला रेत कर हत्या कर दी। एसपी ने बताया कि इस हत्याकांड के बाद आरोपित भागनें की फिराक में थे। तभी पुलिस ने उन्हे सेमरापुल के पास से चारो को गिरफ्तार कर लिया घटना में प्रयुक्त हथियार को भी बरामद कर लिया गया है।
गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में मदनपुर थानाध्यक्ष प्रभूदयाल सिंह, एसआई रामरतन यादव एसआई श्याम सुंदर तिवारी, कांस्टेबल पिंटू चौहान, अंकित यादव, एसओजी प्रभारी अनिल कुमार यादव, एसआई घनश्याम सिंह, संतोष सिंह, हेड कांस्टेबल योगेंद्र सिंह, धनंजय श्रीवास्तव, मेराज अहमद, सुदामा यादव, अरूण खरवार, सर्विलांस सेल के राहुल सिंह, विमलेश सिंह शामिल रहे। संदीप कबाड़ का व्यवसायी था, गांव की एक युवती से उसका प्रेम प्रसंग हो गया। युवती के घर वालो को पता चला तो ऐ बात बुरी लगी। युवती के भाई ने दो साल पहले थाने में संदीप के विरूद्ध तहरीर दी लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नही कि। संदीप डेढ़ साल पहले स्कूल में जाकर युवती से मिला, इसकी शिकायत स्कूल के प्रिंसिपल और युवती की मां ने पुलिस से शिकायत की लेकिन पुलिस कोई कार्यवाही नही की। लोगो का कहना है कि संदीप का हौसला इसी कारण बढ़ता गया। वह शराब पीकर आए दिन युवती के भाईयों और परिजनों को अपशब्द कहने लगा। उसके इस कृत से परेशान युवती के भाईयों ने अपने दोस्तो के साथ मिल कर संदीप को ठिकाने लगा दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button