भाजयुमों ने महंथ अवैधनाथ की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजली दी

देवरिया । ब्रहमलीन महन्थ अवैधनाथ के पुण्यतिथि पर भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने गरुलपार स्थित कार्यालय पर उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि कर नमन किया। इसके बाद उपस्थित कार्यकर्ताओ को सम्बोधित करते हुये भाजयुमों जिलाध्यक्ष विन्देश पाण्डेय ने कहा कि हिन्दू पुनर्जागरण में अपना बहुमूल्य योगदान देने वाले एवं पूर्व गोरक्षपीठाधीश्वर, पूर्व लोकसभा सांसद, परम पूज्य महन्त अवैद्यनाथ जी महाराज की पुण्यतिथि पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि। उनका पूरा जीवन देश और समाज के लिये समर्पित रहा।आजन्म विवादों से दूर रहने वाले, विरक्त सन्यासी, सज्जन, सरल और सुमधुर और मितभाषी व्यक्तित्व के धनी अवैद्यनाथ जी ने श्री रामजन्म भूमि आन्दोलन को मात्र गति ही नहीं दिया अपितु एक संरक्षक की भाँती हर तरह से रक्षित और पोषित किया था
जिलामहामंत्री भाजपा रामशीष प्रसाद ने कहा कि हिन्दू महासभा और भारतीय जनता पार्टी से जुड़े रहकर हिंदुत्व को भारतीय राजनीति में गति देने वाले और सामाजिक हितों की रक्षा करने वाले अवैद्यनाथ जी ने स्वयं को अवसरवाद और पदभार से दूर रखा और इस तरह उन्होंने राजयोग में भी हठयोग का प्रयोग बखूबी किया | कितने पद स्वयं महाराज जी के चरणों में आकर स्वयं सुशोभित होते थे और आशीष लेते थे |मीडिया प्रमुख भाजपा अम्बिकेश पाण्डेय ने कहा कि योग व दर्शन के मर्मज्ञ महंथ जी के राजनीति में आने का मकसद हिंदू समाज की कुरीतियों को दूर करना और राम मंदिर आंदोलन को गति देना रहा था। हिन्दू धर्म में ऊंच-नीच दूर करने के लिए उन्होंने लगातार सहभोज के आयोजन किए। इसके लिए उन्होंने बनारस में संतों के साथ डोमराजा के घर जाकर भोजन किया और समाज की एकजुटता का संदेश दिया। हिंदू समाज की एकता ही उनके प्रवचन के केंद्र में होती थी। वह मूलत: इतिहास और रामचरितमानस का सहारा लेते थे। श्रीराम का शबरी, जटायु, निषादराज व गिरीजनों से व्यवहार का उदाहरण देकर दलित-गरीब लोगों को गले लगाने की प्रेरणा पूरे जीवन देते रहे। इस दौरान राजन यादव,राज दीक्षित,आकाश मिश्रा, मानस शुक्ला, रूपम पाण्डेय,रत्नेश्वर गर्ग, मोहित सोनी,अभिषेक जायसवाल,कृष्णानन्द गिरी,दुर्गेश वर्मा आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button