देवरिया पुलिस ने दो संदिग्धों को दबोचा, फायरिंग भी हुई

देवरिया। कुछ दिन पहले जिलें में हुई दिनदहाड़े हत्या व लूटकांड में देवरिया पुलिस व एसओजी ने दो संदिग्धों को रूद्रपुर क्षेत्र के सुदामा चौराहा से दबोच लिया। इन दोनो बदमाशों को कुछ दिन पहले हुए स्टेट बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र के संचालक के हत्या में शामिल होने की बात सामने आई है। पुलिस को देखकर भाग रहे दोनो बदमाशों को दबोचने के लिए पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी। पुलिस दोनो संदिग्धों से पूछताछ कर रही है। पकड़े गये दोनो बदमाशों ने पहले भी कई वारदातों में शामिल होने कि बात कही है। हालाकि पुलिस अधिकारी किसी भी फायरिंग पर बोल नही रहे है। अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल ने गौरीबाजार थाने में मौजूद होकर स्वयं दोनो बदमाशों से पूछताछ की।
बीते 10 नवम्बर को सर्वेश्वर पटेल जिनकी गौरीबाजार थाना क्षेत्र के बखरा चौराहे पर स्टेट बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र है वह गौरीबाजार से बैंक द्वारा पैसा निकाल कर अपने ग्राहक सेवा केन्द्र जा रहे थे रास्ते में ही दो नकाबपोश बदमाशों ने गोली मार कर उनके पास से 5.40 लाख रूपये लूट कर भाग गये। गोली लगने के कारण सर्वेश्वर पटेल की मौत हो गयी थी। पुलिस ने मृतक के भाई के तहरीर पर हत्या और लूट का केस दर्ज किया। एसपी डाँ.श्रीपति मिश्र ने घटना के पर्दाफाश व बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की चार टीम लगाई है। इसीबीच शुक्रवार को एसओजी प्रभारी गिरिजेश तिवारी को दो संदिग्धों के बारे में जानकारी मिली, सूचना मिलते ही गौरीबाजार थानाध्यक्ष अश्वनी राय, रामपुर कारखाना थानाध्यक्ष घनश्याम सिंह व एसओजी ने रूद्रपुर क्षेत्र के सुदामा चौराहे पर पहुंच कर बदमाशों की चारों तरफ से घेराबंदी कर दिया। पुलिस टीम को देखकर दो बाइक सवार बदमाश अपनी बाइक छोड़ कर खेतो के तरफ भागने लगे। एक बदमाश ईंट भट्ठे की तरफ भागा और दूसरा बदमाश गन्ने की खेत में भागने लगा।
पुलिस की टीम ने बदमाशों को दौड़ा लिया। इस दौरान पुलिस ने हवाई फायरिंग भी की।काफी देर बाद दोनों बदमाशों को अवैध असलहों के साथ पुलिस ने धर दबोचा। दोनों बदमाशों के कारण व पुलिस टीम द्वारा हुई फायरिंग के चलते सुदामा चौराहे पर काफी हड़कंप रहा। मिली जानकारी के अनुसार पुलिस टीम द्वारा 8-9 राउंड गोलियां चली । लेकिन पुलिस के अधिकारी किसी भी फायरिंग से इंकार कर रहे है। दबोचें गये दोनो बदमाशों को लेकर पुलिस टीम गौरीबाजार थाने पहुंची। सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल भी गौरीबाजार थाने पहुंचे। जहां दोनो बदमाशों से पूछताछ की। पुलिस ने बदमाशों से ग्राहक सेवा केन्द्र के संचालक से लूट और हत्या के संदर्भ में जानकारी ली। सुदामा चौराहे पर गोली चलने व दो बदमाशों की सूचना मिलते ही चौराहे पर दुकानों के शटर गिरने लगे। चौराहे पर लूट व हत्या की बात जानकर लोग दहशत में रहे। पुलिस ने दोनो बदमाशों को जब दबोचा तब लोगो ने राहत की सांस ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button