प्रसूता की मौत पर परिजनों ने की अस्पताल में हंगामा

रूद्रपुर, देवरिया। रूद्रपुर नगर की एक प्रसूता की मौत होने पर परिजनों ने निजी अस्पताल में जमकर हंगामा किया। जानकारी के अनुसार रूद्रपुर नगर की एक प्रसूता को प्रसव के दौरान रूद्रपुर तहसील के पास स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, सोमवार की शाम को उसकी हालत बिगड़ने के बाद उसकी मौत हो गयी। प्रसूता की मौत के बाद उसके गुस्साएं परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया। मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए देवरिया भेजा। जबकि गंभीर नवजात बच्ची को दूसरे अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया।
जानकारी के अनुसार रूद्रपुर के रामचक गांव के निवासी छेदी प्रसाद मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते है। सोमवार को उनकी प्रसूता पत्नी इंदु देवी की तबीयत खराब होने पर परिवार के सदस्यों ने नगर में तहसील के पास स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। करीब 5 बजे शाम को प्रसूता ने बच्ची को जन्म दिया। इसी दौरान प्रसूता की हालत गंभीर हो गयी। नवजात के शरीर पर भी कई निशान पड़े थे। प्रसूता की हालत गंभीर देख परिवार के सदस्य उसे गोरखपुर गये। गोरखपुर जाते समय रास्ते में ही प्रसूता की मौत हो गयी। परिजनों ने नवजात को भी दूसरे निजी अस्पताल में भर्ती कराया। परिवार के सदस्य मृतक प्रसूता के शव को लेकर तहसील के पास वाले अस्पताल पहुंचे। अस्पताल पहुंच कर परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। किसी ने इसकी सूचना कोतवाली पुलिस को दे दी। मौके पर पहुंची रूद्रपुर कोतवाली पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगो को समझा बुझा कर शांत कराया। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया।
रूद्रपुर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक अरूण कुमार मौर्य ने कहा कि परिजनों के तहरीर के अनुसार कार्यवाही की जाएगी। निजी अस्पताल के मान्यता के संबंध में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी से बात की गयी है। इस संबंध में स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी डाँ.दिलीप ने कहा कि अस्पताल के कागज की जांच की जा रही है। कागजात गलत पाए जाने पर अस्पताल के संचालन के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button