धीमी गति से शुरू हुआ मतदान ,लोगों में नही देखी गयी मतदान के प्रति उत्साह

पुरूषों की अपेक्षा महिलाएं रही मतदान करने में आगें

देवरिया। सदर विधानसभा देवरिया सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में सुबह 7ः00 बजे से मतदान शुरू हो गया था। सुबह 9 बजे तक 6.9 फीसद मतदान हुआ था। लगभग 20-25 बूथों पर ईवीएम में गड़बड़ी हो गयी। जिससे मतदान काफी देर बाद शुरू हो पाया। विधानसभा के 49 मतदान केन्द्रों पर लाइव टेलीकास्ट की व्यवस्था हुई है। इस लाइव टेलीकास्ट के जरिए चुनाव आयोग मतदान की पूरी गतिविधियों पर नजर रखे हुए थे। विधानसभा उपचुनाव के लिए कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। सुबह तक मतदान की गति बिलकुल धीमी थी। सभी मतदान केन्द्रो पर कोविड-19 से बचाव हेतु पूरी व्यवस्था कि गयी थी। कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतदाताओं के लिए शारीरिक दूरी का पालन एवं मास्क व सैनिटाइजर व थर्मल स्क्रीनिंग की सभी व्यवस्था थी।
प्रदेश में हो रहे उपचुनाव में देवरिया जिले के सदर विधानसभा का भी उपचुनाव हो रहा है। यहाँ के विधायक स्व. जन्मेजय सिंह के निधन से यह सीट रिक्त हो गयी है।
इस विधानसभा के उपचुनाव में कुल 14 प्रत्याशी चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे है। सदर विधानसभा के कुल 3 लाख 36 हजार 565 मतदाता अपने अपने मताधिकारों का प्रयोग विधानसभा के कुल 487 बूथों पर किए। मतदान केन्द्रों पर सभी मतदाताओं को कोरोना जांच के बाद मतदान के लिए जाने दिया गया। सभी बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था का इंतजाम चाक चौबंद था। अर्धसैनिक बलों के जवान सभी बूथों पर तैनात किए गये थे।

कुल 51.05 प्रतिशत हुआ मतदान

कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक सायं 5 बजे तक मतदान का प्रतिशत करीब 51.05% हुआ।

धीरे धीरे बढ़ा मतदान का ग्राफ

जैसे जैसे समय बढ़ता गया मतदान का ग्राफ बढ़ता गया। शुरूआती दौर में मतदान बिलकुल कम फीसद में हुआ लेकिन जैसे जैसे समय होता गया मतदाताओं की संख्या भी बढ़ती गयी। 11 बजे तक विधानसभा सीट पर 18.1 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकारों का प्रयोग किया था। मतदान केंद्रों पर पुरूषों की अपेक्षा महिलाएं ज्यादा संख्या में मतदान की।

मतदान केंद्रों पर रहा सुरक्षा व्यवस्था का कड़ा बंदोबस्त

विधानसभा के सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था का कड़ा बंदोबस्त किया गया था। कही से कोई अप्रिय घटना की सूचना नही मिली।

मतदाताओं को वोटर पर्ची नही मिलने की शिकायतें मिली

विधानसभा क्षेत्र के शहर क्षेत्र के कई बूथों पर मतदाताओं में असंतोष दिखाई दिया। कुछ जगहों पर मतदाताओं के घर वोटर पर्ची नही मिलने की शिकायत मिली। इसमें बीएलओ की लापरवाही की शिकायतें ज्यादा मिली। जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कुछ जगहो पर शिकायतें मिली है कि कुछ लोगो को मतदाता पर्ची नही मिल पायी है। इसमें बीएलओ की लापरवाही सामने आई है। शिकायत मिलने के बाद मतदाता पर्ची मुहैया कराई गयी है। जिनके खिलाफ शिकायत मिली है उनकी जांच कराकर कार्यवाही की जाएगी।

आशा कार्यकर्ताओं ने दिखाई मतदान केंद्रों पर अपनी सक्रियता

विधानसभा उपचुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर आशा कार्यकर्ताओं की सक्रियता देखने को मिली। सभी मतदाताओं को मतदान से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग कर उन्हे माक्स और सैनिटाइजर कराने के बाद ही अंदर जाने दे रहे थे।

ईवीएम महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज में हुआ जमा

मतदान के बाद सभी ईवीएम को कड़ी सुरक्षा के बीच महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज में स्थापित स्ट्रांग रूम में जमा हुआ। पूरे विधानसभा को आठ जोन और 48 सेक्टरो में बाटा गया था। इतने ही जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों की भी तैनाती हुई थी। 33 माइक्रो आब्जर्वर एवं 15 स्टेटिक मजिस्ट्रेट की ड्यूटी लगाई गयी थी। विधानसभा की 49 बूथों की वेबकास्टिंग की गयी है। चुनाव आयोग की नजर इस पर थी। 61 बूथों की वीडियोग्राफी कराई गयी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button