गांवों के विकास के बिना देश का विकास संभव नही-डाँ.सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी

सदर विधायक ने किया पंचायत भवन का लोकार्पण

देवरिया। गाँव के विकास के बिना देश का विकास संभव नहीं है।भारतवर्ष मुख्यतः गांवों का देश है। यहाँ की अधिकांश जनसँख्या गांवों में रहती है।आधे से अधिक लोगों का जीवन खेती पर निर्भर है, इसलिए इस बात की आप कल्पना भी नहीं कर सकतें कि गाँव के विकास के बिना देश का विकास किया जा सकता है।गाँधी जी ने कहा था – अगर आप असली भारत को देखना चाहते हैं तो गांवों में जाएँ. क्योंकि असली भारत गांवों में बसता है।भारत का ग्रामीण जीवन, सादगी और शोभा का भण्डार है। उक्त बातें सदर विधायक डॉ. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी ने 14 वे वित्त से बने ग्राम पंचायत तेन्दुही में बने पंचायत भवन का लोकार्पण करते हुये कही।उन्होंने कहा कि भारत देश की आजादी के बाद से कृषि के विकास के साथ-साथ ग्राम-विकास की गति आज भी बढ़ी है तो उसमें मुख्य भूमिका मोदी और योगी के नेतृत्व में चल रही भाजपा सरकार की देन है।आज भारत के गांवों में पक्के मकान बनाये जा रहे है।सभी किसानों के पास खेती के साधन हो इसके लिये सरकार सब्सिडी देकर सबको साधन उपलब्ध करा रही है।

पूर्व जिलामंत्री गिरिजेश मणि त्रिपाठी ने कहा कि गांवो के लोगो ने नई तकनीकि को अपनाया है,आज उनके पास कृषि में उपयोग किये जाने वाले यंत्र भी भाजपा के सरकार में घर-घर पहुच गये है। जिससे किसानों की आय भी बढ़ी है। शिक्षक नेता जयप्रकाश मणि त्रिपाठी ने कहा कि गाँव में विकास की दृष्टि से शिक्षा पर भी पर्याप्त ध्यान सरकार द्वारा दिया जा रहा है, जिसकी वजह से आज अधिकांश गांवों में इंग्लिश माध्यम के प्राथमिक पाठशालाएं हैं और जहाँ नहीं है वहां भी सरकार द्वारा पाठशालाएं खोलने के प्रयत्न चलाये जा रहे है।
ग्राम प्रधान रमेश श्रीवास्तव ने सभी का स्वागत किया और संचालन धनुषधारी मणि त्रिपाठी ने किया। इस दौरान अम्बिकेश पाण्डेय,रामबेलास मणि,मंडल अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह,रघुवंश सिंह,जगदीश सिंह,ग्राम प्रधान प्रभाकर राय,ग्राम प्रधान रामप्रवेश यादव,ग्राम प्रधान संतोष यादव,ग्राम प्रधान सुभाष चंद,ग्राम प्रधान दिनेश यादव,ग्राम प्रधान मित्रसेन यादव,ग्राम प्रधान समरजीत यादव,राजू तिवारी,विकास मणि, मनीष पाण्डेय, अमरेश मणि, शुभम त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button