एमसीएच विंग में भर्ती मरीजों के परिजन एवं बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश के पर्वेक्षण के लिए जिलाधिकारी ने लगाई 8 मजिस्ट्रेटो की ड्यूटी

– दो मजिस्ट्रेट करेंगे निजी एवं सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन आपूर्ति का प्रभावी पर्वेक्षण
– एमसीएच विंग में परिजनों एवं बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश से बढ़ता है संक्रमण

देवरिया। कोविड -19 कोरोना वायरस के द्वितीय चरण में व्यापक प्रकोप को देखते हुए गम्भीर रूप से संक्रमित मरीजों को जिला अस्पताल के एम०सी०एच० विंग में भर्ती कराकर इलाज कराया जा रहा है, जिसमें यह देखने में आ रहा है कि अधिकतर मरीजों के परिजन या अन्य बाहरी व्यक्ति, जो संक्रमण से प्रभावित नहीं है, उक्त कोविड हास्पिटल (एम०सी०एच० विंग) के अन्दर चले जा रहे है, जिससे संक्रमण का खतरा और बढ़ जा रहा है। उपरोक्त के दृष्टिगत जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने जिला अस्पताल में स्थापित कोविड हास्पिटल (एम०सी०एच०विंग) में निर्धारित मजिस्ट्रेटगण की ड्यूटी शिफ्टवार तत्काल प्रभाव से लगायी है।

जिलाधिकारी ने ड्यूटी में लगाए गए शिफ्टवार मजिस्ट्रेटों के पूर्ण विवरण में बताया है कि प्रत्येक शुक्रवार, रविवार, मंगलवार,गुरुवार को हिमांशु सिंह नायब तहसीलदार रुद्रपुर मोबाइल नंबर 94544 16277 प्रातः 6:00 बजे से अपराह्न 2:00 बजे तक, अपरान्ह 2:00 बजे से रात्रि 10:00 बजे तक सुनील कुमार सिंह एसडीएम बरहज मोबाइल नंबर 97589 09195 तथा रात्रि 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक कर्ण सिंह नायब तहसीलदार भाटपार रानी की ड्यूटी निर्धारित की गई है। इसी प्रकार शनिवार सोमवार बुधवार को प्रातः 6:00 बजे से अपराहन 2:00 बजे तक लल्लन राम एसडीएम सदर मोबाइल नंबर 72670 49488, अपरान्ह 2:00 बजे से रात्रि 10:00 बजे तक जितेंद्र सिंह नायब तहसीलदार बरहज मोबाइल नंबर 73804 57995 तथा रात्रि 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक बंशराज राम तहसीलदार रुद्रपुर मोबाइल नंबर 94544 16266 की ड्यूटी लगाई गई है। इसके अतिरिक्त प्रतिदिन सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु मुकेश वर्मा नायब तहसीलदार सदर मोबाइल नंबर 8604380952 एवं धर्मवीर सिंह नायब तहसीलदार सदर मोबाइल नंबर 9794 734771 ड्यूटी लगाई गई है। जिलाधिकारी ने यह भी बताया है कि नामित मजिस्ट्रेटगण द्वारा सुनिश्चित किया जायेगा कि किसी भी मरीज के परिजन अथवा कोई भी बाहरी व्यक्ति एम०सी०एच० विंग कोविड अस्पताल में अन्दर न जाने पाये तथा आक्सीजन की मितव्ययिता से उपयोग एवं मरीजों की भर्ती आदि अन्य व्यवस्थाओं का प्रभावी पर्यवेक्षण किया जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button