जीवित प्रमाण पत्र को एप के माध्यम से भी किया जा सकता है प्रस्तुत – वरिष्ठ कोषाधिकारी

देवरिया। वरिष्ठ कोषाधिकारी कुलदीप सरोज ने बताया है कि पेंशनरों/ पारिवारिक पेंशनरों को वर्ष में एक बार किसी भी माह में जीवन प्रमाण पत्र जमा किये जाने के निर्देश है। उन्होने कोविड-19 के संक्रमण को ध्यान में रखते अवगत कराया है कि पेंशनर अपना डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र jeevanpramaan.gov.in (जीवनप्रमाण डाट जीओवी डाट इन) वेबसाइट के माध्यम से अपना बैंक खाता संख्या, पीपीओ संख्या एवं आधार पम्बर फीड कराकर जीवन प्रमाण एप्लीकेशन का प्रयोग करते हुए जीवित प्रमाण पत्र जमा कर सकते है। यह प्रमाण पत्र वर्ष में एक बार किसी भी माह में जमा किया जा सकता है। आॅन लाइन जीवन प्रमाण पत्र Umang App के माध्यम से भी बायोमेट्रिक्स वेरिफिकेशन के साथ जमा किया जा सकता है। इसके लिये उन्हे कोषागार आने की अनिवार्यता नही होगी। यदि किसी पेंशनर को अपना पीपीओ नम्बर ज्ञात नही है, तो कोषवानी के वेबसाइट के माध्यम से अपने खाता संख्या का विवरण भरकर पेंशन पेमेंट डिटेल/पीपीओ नम्बर ज्ञात किया जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button