मोदी व योगी के नेतृत्व में देश व प्रदेश ने विकास का नया आयाम स्थापित किया – रवि किशन

देवरिया। भारतीय जनता पार्टी अनुसूचित वर्ग मोर्चा द्वारा सीसी रोड स्थित मंगलम मैरेज हाल में अनुसूचित वर्ग के लोगो का सम्मेलन आयोजित किया गया। सम्मेलन को सम्बोधित करते हुये सांसद गोरखपुर रवि किशन ने कहा कि मोदी और योगी के नेतृत्व में ऐतिहासिक विकास हो रहा है।कभी किसी ने सोचा नही था कि गोरखपुर में एम्स होगा,गोरखपुर में खाद कारखाना होगा,देवरिया में मेडिकल कालेज होगा , अगर आज यह सम्भव है तो केवल इसलिये की देश और प्रदेश में भाजपा की सरकार है।इसलिये मैं यहां आया हूँ कि आप सभी से निवेदन कर सकूं की इस उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी डा. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी को आप लोग विजयी बना के सदन में भेजिये।ताकि विकास का जो रास्ता खुला है वह आगे बढे।

मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार रमापति शास्त्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मंत्र के साथ चल रही है। बीते साढ़े पांच वर्षों से ज्यादा के वक्त में मोदी सरकार ने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजातियों के लोगों के लिए कई ऐसी योजनाओं को लागू किया है, जिनसे समाज के ये वर्ग विकास की मुख्यधारा से जुड़ रहे हैं। मोदी सरकार ने हर साल एससी/एसटी के कल्याण के लिए आम बजट में जहां बढ़ोतरी की है, वहीं उनकी आर्थिक, शैक्षणिक और सामाजिक स्थित को मजबूत करने के लिए कई बड़े फैसले भी लिए हैं।

मोदी सरकार ने वर्ष 2020-21 के आम बजट में अनुसूचित जाति और जनजातियों के कल्याण की योजनाओं को संचालित करने के लिए 1 लाख 18 हजार करोड़ रुपये का बंपर आवंटन किया है। बजट में अनुसूचित जाति और अन्य पिछड़ी जाति के लोगों के विकास के लिए जहां करीब 85 हजार करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं, वहीं अनुसूचित जनजातियों के विकास के लिए 53 हजार 700 करोड़ रुपये का आवंटित किए गए हैं। यह पैसा आदिवासियों के कल्याण के लिए केंद्र सरकार की विभिन्न मंत्रालयों और विभागों के द्वारा खर्च किया जाएगा। जाहिर है कि इस बार के बजट में एससी/एसटी और पिछड़ा वर्ग को कुल मिलाकर 1 लाख 38 हजार 700 करोड़ रुपए का फंड मिला है।

प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान ने कहा कि मोदी सरकार ने दलित विद्यार्थियों में प्रथामिक से लेकर उच्च शिक्षा तक सहूलियत के लिए कई प्रावधान किए हैं। सरकार ने इस बार के बजट में दलित विद्यार्थियों में उच्च शिक्षा को प्रोत्साहित करने वाली मुख्य योजना, पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप अनुसूचित जाति में 2987.33 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इतना ही नहीं दलितों के शैक्षणिक कल्याण की अन्य योजना प्री मैट्रिक स्कालरशिप में सरकार ने 115 करोड़ के बजट से बढ़ाकर के 700 करोड़ रुपये किया है। इसी प्रकार आदिवासियों के शैक्षणिक कल्याण से जुड़ी योजनाओं में सरकार ने बढ़ोतरी की है। पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप में पिछले वर्ष 1826 करोड़ का प्रावधान था, उसको 1900 करोड़ रुपये किया गया है। प्री मैट्रिक स्कालरशिप में 400 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

क्षेत्रीय अध्यक्ष अनुसूचित मोर्चा / पूर्व विधायक बेचन राम ने कहा कि अनुसूचित जातियों के हितों को बढ़ावा देने की मुख्य जिम्मेदारी केंद्र तथा राज्य सरकारों के सभी मंत्रालयों के अपने-अपने कार्य क्षेत्रों में तो है ही, साथ ही यह मंत्रालय विशेष रूप से तैयार योजनाओं के जरिए अहम क्षेत्रों में पहल कर इस कार्य को और आगे बढ़ाता है। राज्य सरकारों

अनुसूचित जातियों के लाभों के लिए सभी सामान्य विकास क्षेत्रों  अनुसूचित जातियों के विकास का अन्य नीतिगत प्रयास है विशेष घटक योजना को विशेष केंद्रीय सहायता, जिसमें राज्यों/केंद्र प्रदेशों की अनुसूचित जाति उपयोजनाओं को शत-प्रतिशत सहायता दी जाती है, जिसके कुछ आधार हैं जैसे- राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में अनुसूचित जातियों की जनसंख्या, राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों में अनुसूचित जाति का तुलनात्मक पिछड़ापन, राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों में अनुसूचित जाति के परिवारों को गरीबी की रेखा के नीचे से ऊंचा उठाने के लिए लागू समेकित आर्थिक विकास कार्यक्रमों की प्रतिशतता, राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों की SC जनसंख्या की प्रतिशतता के मुकाबले वार्षिक योजना के लिए अनुसूचित जाति उप-योजना की प्रतिशतता।

सलेमपुर विधायक काली प्रसाद ने कहा कि राष्ट्रीय अनुसूचित जाति वित्त तथा विकास निगम गरीबी की रेखा से दोगुना नीचे बसर करने वाली अनुसूचित जातियों के लोगों की आय सृजन गतिविधियों के लिए ऋण सुविधा प्रदान करता है। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह,रामशीष प्रसाद,निर्मला गौतम,छेदी प्रसाद एडवोकेट,राजन सोनकर,अजय गौतम, छोटेलाल,अजित भारती, सुनील स्नेही,मिथिलेश बाबा,हेमन्त कुमार,अखिलेश कुमार,रामदास,अम्बिकेश पाण्डेय,पवन कुमार,राधिका पासवान,मंजू देवी,रंजू भारती, संतोष कुमार,राहुल कुमार,संजय गौतम, मनोज प्रसाद,राजू प्रसाद,दुर्गेश भारती, सतेन्द्र कुमार आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button