राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा शस्त्र पूजन कर मनाया गया विजयादशमी पर्व

भलुअनी (देवरिया) । सोमवार को ज्ञानप्रकाश इंटर कालेज परिसर में राष्ट्रीय स्वयंसेवकों द्वारा माँ दुर्गा की पूजा व शस्त्र पूजन कर विजयादशमी का पर्व धूमधाम से मनाया गया । मुख्य शिक्षक सूरज द्वारा शाखा लगाया गया, जिसके बाद शस्त्र पूजन के बारे में बताते हुये स्वयंसेवक व रिटायर्ड शिक्षक शालीग्राम (ज्ञान प्रकाश इंटर कालेज) ने कहा कि शस्त्र पूजन हमारे पूर्वजों की परंपरा व संस्कृति है । शस्त्र पूजन हमारे पूर्वजों व राजा महाराजाओं द्वारा किया जाता हुआ चला आ रहा है । संघ के बारे में बताते हुये उन्होनें कहा कि विजयादशमी के दिन ही संघ की स्थापना हुयी थी । नागपुर में सिर्फ पांच लोंगों द्वारा शुरू किया गया यह संगठन आज विश्व का सबसे बड़ा संगठन है जो किसी भी विपदा में सदैव देश के साथ खड़ा रहता है और अपना पूरा योगदान देता है, वह व्यक्ति बहुत सौभाग्यशाली होता है जो भारत मे जन्म लेता है । अभी चल रहे कोरोना काल में स्वयंसेवको द्वारा देश के कई जगहों पर हजारों लोंगों को भोजन वितरण किया गया है । उन्होनें कहा कि संघ दो बातें सिखाता है, अनुशासन और ईमानदारी ।

उन्होनें कहा कि हम सभी के समय मे जो बिगड़ैल बच्चे होते थे उन्हें सुधारने के लिये अभिभावकों द्वारा संघ में भेजा जाता था और वह बच्चे संघ से संस्कारी, ईमानदार, शिष्टाचारी बनकर निकलते थे, और आज भी यह प्रकिया चल रही है । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे पंडित रामप्रताप पाण्डेय ने मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र जी के त्याग, तपस्या, समर्पण, अनुशासन व बलिदान के बारे में बताते हुये कहा कि भगवान श्री रामचन्द्र द्वारा रावण का वध कर अधर्म पर धर्म की हुयी विजय के पर्व विजयादशमी के बारे में विस्तार पूर्वक समझाया । उन्होंने कहा कि संघ के स्वयंसेवक सिर्फ देशहित के बारे में सोचते हैं व देशहित में कार्य करते हुये देश का सम्मान बढ़ाते हैं । शस्त्र पूजन के बाद प्रार्थना व प्रसाद के रूप में मिष्ठान वितरण किया गया । कार्यक्रम में जिला सर संघचालक यशवंत जी, खण्ड कार्यवाह महेंद्र जी, खण्ड संघचालक धर्मराज जी, खण्ड कार्यवाह डॉ. योगेश जी, जिला व्यवस्था प्रमुख विनोद जी, मण्डल कार्यवाह बिरधी जी, मण्डल प्रमुख अश्वनी जी, रमाशंकर सिंह, बृजमोहन मद्धेशिया, दिनेश गुप्त, भगवान दास मद्धेशिया, नितिन गुप्ता, पवन गुप्ता, सुंदरम वर्मा, अभिषेक मद्धेशिया, अश्वनी मद्धेशिया, ऋषिकेश रजक, दीपक गोड़, शौर्य सिंह, पप्पू वर्मा, संजय वर्मा, चन्द्रशेखर वर्मा, सन्तोष मद्धेशिया, कुलदीप सिंह, राघव तिवारी, प्रणव दुबे, प्रमोद सिंह, डॉ. युगलकिशोर, मुन्ना गुप्ता, भीम, अखण्ड तिवारी, मुन्ना तिवारी, रामअवध, मृत्युंजय, सुरेंद्र सिंह, राजेश सिंह, सुग्रीव सिंह सहित सैकड़ों स्वयंसेवक उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button