कृषि मंत्री ने कोविड-19 का L2 और L3 अस्पताल का उद्घाटन किया

जनपद में स्थापित हुआ कोविड-19 के एल 2 एवं एल 3 का अस्पताल, निर्धारित दर पर होगा इलाज

देवरिया। कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैला हुआ है, इस वायरस की वजह से लाखों लोग जान गवा दिए। इस वायरस से लोगों की इलाज ठीक ढंग से हो सके ऐसी अस्पताल की जरूरत देवरिया जिले में भी महसूस की जा रही थी। उत्तर प्रदेश के कृषिमंत्री सूर्य प्रताप शाही की प्रेरणा, देवरिया जिलाधिकारी अमित किशोर की पहल एवं जनपद के वरिष्ठ नेत्र रोग विशेषज्ञ डाँ. के. सिंह की संजीदगी की वजह से जनपद में कोरोना वायरस के इलाज हेतु अति आवश्यकता महसूस की जा रही ऐसी हास्पीटल हो आज वह जनपद वासियों को भेट की गयी। आज उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही ने कोविड-19 के एल2 एवं एल3 हास्पीटल जो पूरी तैयारियों एवं साज-सज्जाओं के साथ स्थापित हुई उसका फिता काटकर व दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन किया। यह अस्पताल शहर के वेदांक मल्टी स्पेशलिटी हास्पीटल में स्थापित हुई है। आस्था ग्रुप द्वारा इस हास्पीटल को संचालित किया जाएगा। इस हास्पीटल में कोविड विशेषज्ञ डाँक्टर्स की टीम, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्स आदि आवश्यक सुविधाओं के साथ कार्य करेगे।यह अस्पताल सरकार द्वारा निर्धारित उचित दर पर मरीजों का इलाज करेगा।
इस अवसर पर कृषिमंत्री सूर्य प्रताप शाही ने सबसे पहले नेत्र चिकित्सक डाँ. के. सिंह को धन्यवाद दिया सभा को संबोधित करते हुए कहा इस अस्पताल को एल 1 के रूप में स्थापित किये जाने का प्रस्ताव था, पर इसे अब एल 2 एवं एल 3 कोविड अस्पताल के रूप में संचालित किया जाएगा। उन्होने कहा कि देवरिया जिला भी अब उन जनपदों में शामिल हो गया जहा एल 2 व एल 3 स्तर का अस्पताल स्थापित है। उन्होने कहा कि इस हास्पीटल में गंभीर मरीजों का भी इलाज होगा। इलाज से संबंधित सभी सुविधाएं इस अस्पताल में उपलब्ध रहेगी। इस अस्पताल के स्थापित होने से मरीजों को गोरखपुर या अन्य जगहों पर नही जाना पड़ेगा।कृषिमंत्री ने कहा कि कोविड-19 हेतु गठित टीम-11 की बैठक नियमित रूप से होता रहे। बराबर समीक्षा होती रहे। जब तक दवा नही आ जाती तब तक सावधानी बरतनी चाहिए।कृषिमंत्री ने कोविड-19 के मरीजों का इलाज करते करते कोरोना संक्रमित होकर मृत्यु प्राप्त हुए डाँ. राजीव रंजन को श्रद्धांजली दी।


कृषिमंत्री ने अस्पताल में सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने को कहा, एवं अस्पताल में शासन द्वारा निर्धारित दर की पैकेट चार्ट जिससे इलाज हेतु सहुलियत मिले उसे प्रदर्शित किए जाने को कहा। कृषिमंत्री ने अस्पताल के पूरी टीम को बधाई देते हुए अस्पताल के सफलता की शुभकामना दी। एवं मरीजों के बेहतर इलाज की अपेक्षा की। इस अवसर पर जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि कृषिमंत्री के प्रेरणा एवं नेत्र चिकित्सक डाँ.के सिंह के पहल पर यह अस्पताल कोविड-19 के एल 2 एवं एल 3 अस्पताल के रूप में जनपद में स्थापित हुई है। यहाँ शासन द्वारा निर्धारित उचित दर पर मरीजो का इलाज होगा। इस हास्पीटल में सभी सुविधाएं आवश्यकता अनुसार उपलब्ध रहेगी। उन्होंने कहा की किसी भी प्रकार की कोई भी समस्या आए आप जिला प्रशासन को जरूर अवगत कराए।


जिलाधिकारी ने वायो केमिकल टेस्ट को प्राथमिकता के साथ प्रबंध किए जाने का निर्देश दिया।  अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सक डाँ.अजय शुक्ला ने कहा की जिलाधिकारी के द्वारा बराबर पहल की जाती रही है इस जनपद में भी गोरखपुर जैसी कोविड अस्पताल है वैसा ही अस्पताल आई.एम.ए.के सहयोग से यहा भी संचालित हो। जहां सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध हो और गंभीर परिस्थितियों में गंभीर बीमारियों का इलाज लोकल स्तर पर हो जिससे मरीज की जान बच सके जिलाधिकारी के इस पहल से देवरिया में भी इस अस्पताल को बनाया गया जहां लगभग 80 कोरोना मरीजों का इलाज L2 एवं L3 स्तर  का हो सके इसके लिए पर्याप्त स्टॉप एवं वेंटिलेटर, ऑक्सीजन दवाई आदि की पर्याप्त व्यवस्था हुई है ।मरीजों का इलाज शासन द्वारा निर्धारित दर पर ही होगी। उन्होने लोगों में जागरूकता लाए जाने पर बल दिया। उन्होंने जिलाधिकारी से एंटीजन कीट की मांग की जिससे यहा जांच भी हो सके।
एवं कोरोंना पाँजिटिव का इलाज हो सके।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाँ. आलोक पांडे ने इस हॉस्पिटल की सफलता की कामना की, एवं बेहतर इलाज किए जाने की बात कही। वरिष्ठ नेत्र चिकित्सक डाँ.के सिंह ने कृषि मंत्री एवं जिलाधिकारी के प्रति कृतज्ञता जाहिर की। इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाँ. डीबी शाही ने अस्पताल को संचालित किए जाने के लिए स्वास्थ्य विभाग सहित इससे जुड़े लोगों, एवं आई एम ए के प्रति आभार जताया । भाजपा जिला अध्यक्ष डॉक्टर अंतर्यामी सिंह ने अस्पताल के संचालकों को धन्यवाद देते हुए अस्पताल के सफलता की कामना की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button