उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार किसान विरोधी सरकार – सतीश चंद्र मिश्र

देवरिया। देवरिया सदर विधानसभा उपचुनाव के प्रचार हेतु शुक्रवार को बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र ने पार्टी प्रत्याशी अभयनाथ त्रिपाठी के पक्ष में जनसभा को संबोधित किया।  बसपा के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने कहा कि उत्तर प्रदेश में माफियाओं का राज चल रहा है, सरकार में गुंडाराज, भ्रष्टाचार चरम पर है। इस सरकार में किसान, मजदूर, बेरोजगार, व्यापारी सभी त्रस्त है। हर साल दो करोड़ लोगो को नौकरी देने का वादा कर सत्ता में आई भाजपा सरकार करोड़ो लोगों को बेरोजगार बना दी। इस सरकार को सबक सिखाने का समय अब आ गया है।
बसपा महासचिव ने देवरिया सदर सीट से उपचुनाव में बसपा प्रत्याशी अभय नाथ त्रिपाठी के समर्थन में देवरिया के टाउनहाल में आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा की उत्तर प्रदेश में जंगल राज कायम हो गया है। प्रशासन में बैठे अधिकारियों सहित पुलिस को खुली छूट दे दि गयी है। जिससे वह निरंकुश हो गये है। बसपा की सरकार थी तो अपराधी खौफ में रहते थे, बसपा सांसद ने जब कानून को हाथ में लिया तो उसे भी बख्शा नही गया था। प्रदेश में कानून का राज चलता था, महिलाएं सुरक्षित रहती थी।बसपा ने सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय का नारा दिया और समाज का हर वर्ग सुरक्षित थे। मौजूदा भाजपा सरकार में रोज बलात्कार हो रहा है। जिस परिवार के साथ घटनाएं हो रही है उसी को फंसाया जा रहा है।जाति-धर्म के नाम पर लोगो को बांटा जा रहा है। केन्द्र की सरकारी संस्थाओं को जैसे रेल, ओएनसीजी,एयर इंडिया सहित लगभग 30 संस्थाओं को प्राइवेट किया जा रहा है। बसपा महासचिव ने सरकार पर यह आरोप लगाया की लाखो करोड़ो रूपये का विज्ञापन टीबी पर दिखाकर जनता का ध्यान बाटने का कार्य हो रहा है। जनता का ध्यान मूलभूत समस्याओं से ध्यान बांटने का काम हो रहा है। देश की पूरानी संस्था एलआईसी को प्राइवेट करने का प्रयत्न हो रहा है। किसान बिल के माध्यम से सरकार की नजरे किसानों की जमीनो पर है। इस बिल के द्वारा किसानों को सिर्फ छलने का काम होगा। उन्होने कहा भाजपा ने देश की जनता को तीस सालों तक राम मंदिर निर्माण के नाम पर धोखे में रखा। देश की सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर राम मंदिर का निर्माण बनने जा रहा है और भाजपा उसका लाभ लेने की फिराक में है। जबकि जनता सब जान चुकी है अब यह जनता भाजपा के झांसे में नही आने वाली है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button