जिलाधिकारी के निर्देश पर बाल श्रमिकों को कराया गया मुक्त

खुखुन्दू, देवरिया । जिलाधिकारी देवरिया के निर्देश पर जनपद में NO CHILD LABOR अभियान चलाया गया । इस अभियान का मुख्य उद्देश्य ऐसे बालक जो बाल मजदूरी में लगे हुये है, उन्हे बाल मजदूरी से मुक्त कराकर समाज की मुख्य धारा से जोड़ा जाना है । अभियान हेतु निर्धारित स्थान खुखुन्दू चौराहा रहा। खुखुन्दू में स्थित विभिन्न दुकानों, होटलों आदि प्रमुख-प्रमुख स्थानों पर छापेमारी की गयी । छापेमारी के दौरान कुल 03 बच्चे बाल श्रम से मुक्त कराये गये, जिनमें ओम प्रकाश उम्र 15 वर्ष राज आटो सेन्टर खुखुन्दू, शिवम कुमार उम्र 15 वर्ष अंसारी वेल्डिक वर्कशाप खुखुन्दू व मिथुन कुमार 15 वर्ष ठाकुर टेक्टर रिपेयर खुखुन्दू की दुकान पर से रेस्क्यू किये गये । उक्त समस्त बाल श्रमिकों का कोविड-19 टेस्ट कराया गया, जिसमें समस्त बाल श्रमिकों की रिपोर्ट निगेटिव आयी । तत्पश्चात् बालकों को बाल कल्याण समिति, देवरिया के सम्मुख प्रस्तुत किया गया । बाल कल्याण समिति द्वारा बालकों के उम्र परीक्षण कराये जाने के साथ-साथ उनके देख-रेख एवं संरक्षण हेतु राजकीय बाल गृह (बालक), देवरिया में आवासित कराये जाने के आदेश पारित किये गये, जिसके पश्चात् बालकों को सम्बन्धित संस्था में प्रवेशित करा दिया गया ।
रेस्क्यू अभियान में नायब तहसीलदार सलेमपुर श्री धर्मवीर सिंह, बाल संरक्षण अधिकारी श्री जय प्रकाश तिवारी, श्रम प्रर्वतन अधिकारी श्री रमन कुमार श्रीवास्तव, थानाध्यक्ष श्री जितेन्द्र त्रिपाठी, उप निरीक्षक श्री शिवशंकर थाना खुखुन्दू, श्री श्रवण कुशवाहा श्री मनोज कुमार, अश्वनी सिंह, हरिकान्त, चाइल्ड लाइन रेलवे, चाइल्ड लाइन कोलैब, खुला आश्रय गृह व श्यामसुन्दर मेमोरियल वेलफेयर सोसाइटी के प्रतिनिधि उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button