जिलाधिकारी ग्राम कसिली में लगायी चौपाल , सुनी समस्यायें, निस्तारण के दिये निर्देश

अनुपस्थित चल रही एक अध्यापिका को निलम्बित करने तथा ए0बी0एस0ए0 से स्पष्टीकरण तलब करने का दिया निर्देश

देवरिया। जिलाधिकारी अमित किशोर ने आज भागलपुर ब्लाक अंतर्गत ग्राम कसिली में चौपाल लगायी, लोगो की समस्याओं को सुना तथा उसका समाधान कराये जाने का आश्वासन ग्रामीणों को दिया। इस दौरान उन्होने राष्ट्रीय पोषण माह के तहत आयोजित पोषण कार्यक्रम एवं पोषण वाटिका का शुभारम्भ इस गांव के प्राथमिक विद्यालय परिसर में फीता काटने के साथ किया। काफी दिनो से अनुपस्थित चल रही प्राथमिक विद्यालय की अध्यापिका को निलम्बित किये जाने का निर्देश ए0बी0एस0ए0 भागलपुर को दिया। उन्होने विद्यालय में अतिक्रमण आदि की शिकायतो को लेकर ए0बी0एस0ए0 का स्पष्टीकरण भी तलब किये जाने का निर्देश दिया। ग्रामीणों द्वारा ग्राम सभा के कार्यो में हुए कार्यो की शिकायत को संज्ञान लेते हुए कहा कि शपथ पत्र पर शिकायत प्रस्तुत कराये, जांच करायी जायेगी, जो भी दोषी होगा, उसके विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही करायी जायेगी।
जिलाधिकारी अमित किशोर ने प्राथमिक विद्यालय-2 में अतिक्रमण की शिकायत के क्रम में तहसीलदार बरहज को विद्यालय के जमीन का चिन्हांकन कराये जाने के निर्देश दिया तथा इसकी बाउन्ड्री भी कराये जाने को कहा। इस गांव के ग्राम सभा की जमीनो पर अपात्रों का पट्टा आवंटित किये जाने की बात उठायी गयी, जिस पर उन्होने कहा कि इसके लिये नियमानुसार जिलाधिकारी न्यायालय में पट्टा निरस्तीकरण के लिये वाद प्रस्तुत करना होगा तभी उस पर कार्यवाही हो सकेगी।
इस दौरान इस गांव में लगभग 100 एकड़ कृषि भूमि जल जमाव से प्रभावित होने की बात लायी गयी, जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि अधिशासी अभियंता बाढ़ से इसका निरीक्षण कराकर हल निकाला जायेगा तथा खण्ड विकास अधिकारी प्रस्ताव बनाकर मनरेगा के तहत जल निकासी का कार्य करायेगें। जर्जर तार की समस्या पर उन्होने अधिशासी अभियंता विधुत बी0पी0 सिंह को निर्देश दिया कि इसका प्रस्ताव बनाकर मेरे तरफ से भेजें और जर्जर तार हर हाल में बदले जायें। यह सुनिश्चित होना चाहिये। बिद्युत विभाग के कार्यरत एस0एस0ओ0 राम निवास यादव की काफी शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गयी, जिसे गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी उन्हे तत्काल इस तैनाती स्थल से हटाये जाने का निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिया। कसिली ग्राम के उतर टोला में पंचायत भवन, सामुदायिक भवन नही होने समस्या लायी गयी, जिस पर आवश्यक कार्यवाही किये जाने का निर्देश दिया गया।
जिलाधिकारी ने कहा कि समस्याओं का समाधान तो किया ही जायेगा, लेकिन सबसे अहम यह है कि युवा रोजगार से जुडे तथा वे उत्साह व ऊर्जा से पूरी तरह से लवरेज रहे, उसके लिये कार्य करने की जरुरत है। इस पर पहल करते हुए उन्होने चैपाल के बीच से ही दो युवाओं अवनीश कुमार मिश्र एवं विनय कुमार राजभर का चयन कौशल विकास व प्रशिक्षण आदि प्रदान कर उन्हे रोजगार से जोडे जाने हेतु किया। इसके अलावे शेष अन्य युवाओं को भी कौशलपरक बनाये जाने हेतु प्रशिक्षित किये जाने के लिये एन0एस0आई0सी0 एवं नेहरु युवा केन्द्र की टीम भेजकर कराये जाने को कहा। उन्होने यह भी कहा कि इस गांव के विकास के लिये हर संभव प्रयास होगा।
इसके उपरान्त जिलाधिकारी राष्ट्रीय पोषण माह के तहत आयोजित कार्यक्रम पोषण वाटिका का शुभारम्भ फीता काटकर किया तभा उपस्थित कार्यकर्तियों को इस अभियान में कार्य करते हुए कुपोषित बच्चो को सुपोषित कराये जाने पर बल दिया। जिलाधिकारी ग्रामीणों की उठायी गयी समस्याओं पर गंभीरता दिखातें हुए गांव में जाकर प्राथमिक विद्यालय-2 का स्थलीय निरीक्षण भी किया एवं चिन्हांकन एवं बाउन्ड्री कराये जाने का निर्देश दिया। अभिषेक मिश्रा, राजीव कुमार मिश्रा, दुर्गेश कुमार मिश्रा, अखिलेश तिवारी, धर्मेन्द्र मिश्र, डा0बी0एन.तिवारी, आदि ने जन समस्याओं से जुडे पहलुओं को रखा।
इस अवसर पर ज्वाइन्ट मजिस्ट्रेट सुमित यादव, डी0सी0मनरेगा गजेन्द्र तिवारी, तहसीलदार बरहज, क्षेत्राधिकारी बरहज, बी0डी0ओ0भागलपुर, वाणिज्य कर निरीक्षक के0के0भास्कर, ग्राम प्रधान जंग बहादुर यादव, ए0बी0एस0ए0 बीरबल राम सहित अन्य जुडे अधिकारी, कर्मचारी गण व ग्रामवासी गण आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button