बावरिया गिरोह के आने की सूचना पर देवरिया में पूरी रात चला जांच अभियान

देवरिया। देवरिया जिले में बावरिया गिरोह के बदमाशों के आने की सूचना के बाद देवरिया पुलिस में खलबली मच गयी। गुरुवार की पूरी रात जनपद में पुलिस का चेकिंग अभियान चला। हालाकि बावरिया गिरोह का कोई भी बदमाश पुलिस के हाथ नही लगा।
पुलिस अधीक्षक देवरिया डाँ.श्रीपति मिश्र को गुरूवार की रात बलिया जिले की तरफ से देवरिया जिलें में कुछ शातिर बदमाशों के आने की सूचना मिली। सूचना मिलते ही जिले की पुलिस सक्रिय हो गयी। सूचना के आधार पर सलेमपुर एवं बरहज सर्किल में जांच शुरू हो गयी। जिले के एसओजी सहित कई थानों की पुलिस सलेमपुर एवं मईल थाना क्षेत्र में पहुंच कर चेकिंग अभियान शुरू कर दी। यह चेकिंग अभियान देर रात से सुबह 6 बजे तक चलती रही। हालाकी किसी भी बदमाश को पुलिस नही पकड़ पायी।

बावरिया गिरोह के बदमाशों के जिले में आने की सूचना के बाद तीन पुलिस क्षेत्राधिकारी जिसमें सलेमपुर के क्षेत्राधिकारी श्रीयेश त्रिपाठी, बरहज के क्षेत्राधिकारी दिनेश सिंह यादव, एवं रूद्रपुर के क्षेत्राधिकारी पंचमलाल को सक्रिय कर क्षेत्र में लगाया गया। सलेमपुर क्षेत्र में लार थानाध्यक्ष टीजे सिंह, खुखुंदू थानाध्यक्ष जितेन्द्र तिवारी, बनकटा थानाध्यक्ष गोपाल प्रसाद, भटनी थानाध्यक्ष मुकेश मिश्र एवं भलुअनी थानाध्यक्ष राजेश सिंह को कई जगहों पर तैनात कर चेकिंग अभियान शुरू कर दिया गया। बरहज पुलिस एवं मईल पुलिस को देवरिया- बलिया जिले के बार्डर पर तैनात कर दिया गया।

देर रात को ही पुलिस अधीक्षक डाँ.श्रीपति मिश्र भी सलेमपुर पहुंच गये। इस दौरान सभी गतिविधियों की एक एक जानकारी लेते रहे। भोर के वक्त 3 बजे वह सलेमपुर से देवरिया लौट गये।बावरिया गिरोह बलिया जिलें के शातिर बदमाश है। पुलिस को मिली सूचना के आधार पर इस गिरोह के शातिर बदमाश सभी बलिया जिले के निवासी और नट जाति के है। यह सभी बावरिया गिरोह से जुड़े हुए है। इस गिरोह के बदमाश डकैती करने के साथ ही लोगों पर हमला कर बुरी तरह से घायल कर देते है। पुलिस ने सभी भट्ठा मालिकों को सक्रिय कर दिया है। देवरिया पुलिस ने सभी भट्ठा मालिकों को फोन करना शुरू कर दिया है। भट्ठा मालिकों से सक्रिय होने और सभी चौकीदारों को भी सक्रिय रहने की बात कही गयी है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button