करेंट की चपेट में आने से विधायक की छोटी बहू की मौत

देवरिया। देवरिया के रामपुर कारखाना से भाजपा के विधायक कमलेश शुक्ल की छोटी बहू की करंट से मौत हो गई। घटना उत्तराखंड के रुद्रपुर में स्थित उनके आवास पर हुई। सूचना मिलते ही भाजपा कार्यकर्ताओं में शोक की लहर दौड़ गयी।सोमवार की रात उत्तराखंड के रुद्रपुर स्थित विधायक रामपुर कारखाना के फार्म हाउस में बाढ़ का पानी घुस गया। घर में मौजूद विधायक की छोटी बहू कंचन शुक्ल (35) पत्नी अनूप शुक्ल ने नौकर से इन्वर्टर का तार निकालने के लिए कहा। नौकर तार नहीं निकाल पा रहा था। इस पर कंचन खुद तार निकलने चली गई।उसी दौरान करंट की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई। देवरिया में मौजूद विधायक कमलेश शुक्ल को रात करीब डेढ़ बजे घटना की जानकारी हुई तो यहां भी कोहराम मच गया।रात को ही भाजपा कार्यकर्ताओं को भी इस घटना जानकारी मिल गयी,इसकी जानकारी होते ही कार्यकर्ताओ में शोक व्याप्त हो गया।
भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने इस अकस्मात घटित घटना पर शोक व्यक्त किया है।सांसद डा. रमापतिराम त्रिपाठी,सांसद रविन्द्र कुशवाहा,सांसद कमलेश पासवान,कृषि मंत्री सूर्यप्रताप शाही, राज्य मंत्री जयप्रकाश निषाद, भाजपा जिलाध्यक्ष अंतर्यामी सिंह, विधायक डॉ. सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी, विधायक सुरेश तिवारी, विधायक काली प्रसाद, जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश तिवारी, पूर्व एमएलसी महेंद्र यादव, पूर्व जिलाध्यक्ष मारकंडेय शाही, पूर्व जिलाध्यक्ष अनिरुद्ध मिश्रा, पूर्वजिलाध्यक्ष विजय कुमार दूबे, विजय बहादुर दूबे, कृष्णानाथ राय,गंगा कुशवाहा, संजय राव, अरुण सिंह, प्रमोद शाही, अजय कुमार दूबे, रविन्द्र कौशल किशोर, रमेश सिंह, अजय शाही,संतोष त्रिगुणायक, संजय सिंह एडवोकेट,अम्बिकेश पाण्डेय, नागेशपति त्रिपाठी, रामेश्वर पाण्डेय आडवानी, योगेश प्रजापति,दीपक जायसवाल, प्रमोद सिंह, सत्यप्रकाश पाण्डेय,विजय गोंड़, पवन मिश्रा, अरुण मिश्रा, प्रवीण प्रताप मल्ल, निर्मला गौतम, रामाज्ञा चौहान, शिवकुमार राजभर, भारती शर्मा, रामदास मिश्रा, धनुषधारी मणि,राजन सोनकर, राजू गोंड़, रवि पाल, उपेन्द्र त्रिपाठी आदि ने दुःख व्यक्त करते हुये प्रभु से प्रार्थना किया कि इस बज्रपात को सहने की शक्ति प्रभु विधायक के परिवार को दे। घटना के वक्त विधायक कमलेश शुक्ला लखनऊ आवश्यक काम से थे,सूचना मिलने पर देवरिया से लखनऊ पहुचे अपने बड़े बेटे संजीव शुक्ल के साथ उत्तराखंड के लिए रवाना हो गए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button