जिला कारागार में कैदी ने फांसी लगा कर दी जान

अपनी पत्नी की हत्या के आरोप में जेल में था बंद

देवरिया। जिला कारागार में बंद एक कैदी ने सोमवार की दोपहर को फांसी का फंदा लगा कर अपनी जान दे दी। साथी कैदी को फांसी लगाकर आत्महत्या करने की बात जान कर जेल में बंद कैदियों में आक्रोश फैल गया। बंदियों के आक्रोश को देखकर जिला मुख्यालय से बड़ी संख्या में पुलिस बल जिला कारागार पहुंच गया। बबलू यादव नामक बंदी कारागार के बैरक संख्या दो में बंद था। बंदी बबलू यादव सोमवार को दोपहर में बैरक संख्या 9 बी के पीछे फंदा लगाकर जान दे दिया। बंदी के फंदा लगाकर जान देने की सूचना मिलते ही कैदियों में भगदड़ मच गयी।

आरआरएफ ने सम्भाला जिला कारागार में मोर्चा

जिला कारागार में बंदी के फंदा लगाकर जान देने की भनक लगते ही जेल में अन्य कैदियों के भड़के आक्रोश को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा जेल में आरआरएफ को भेजा गया है। जनपद के लगभग आधा दर्जन थानाध्यक्ष को भी भेजा गया। जिला कारागार में अपर पुलिस अधीक्षक एवं मुख्य राजस्व अधिकारी कैदियों से वार्ता कर रहे है।

जेल में अग्निशमन विभाग भी मुस्तैदी से तैयार

जेल में कैदियों के आक्रोश को देखते हुए फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को जेल के पास बुला लिया गया है। जिला कारागार में वर्ष 2017 में एक कैदी ने आत्महत्या कर ली थी। भटनी थाना क्षेत्र के रायबारी गांव निवासी बुद्धु ने जेल के बाथरूम में रोशनदान से गमछा के सहारे लटक कर आत्महत्या कर लिया था। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक डाँ. श्रीपति मिश्र ने कहा कि जिला जेल में एक कैदी की मौत हुई है, इस मामले की छानबीन की जा रही है। कैदियों से वार्ता किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button