सपा विधायक कर रहे हैं अनर्गल प्रलाप- सभाकुंवर

भाटपार रानी, देवरिया। भाजपा के वरिष्ठ नेता सभा कुंवर कुशवाहा ने भाटपार रानी के क्षेत्रीय विधायक डॉ आशुतोष उपाध्याय के प्रेस वार्ता का जवाब देते हुए कहा कि विधायक अफवाह फैला कर जनता में भ्रम डालने का काम करते हैं। सभा कुंवर कुशवाहा ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि सपा के शासनकाल सन 2012 में भाटपार रानी से मझौली की सड़क ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के अंतर्गत कंदर्प कंस्ट्रक्शन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने बनाई। सड़क का निर्माण सन् 2012 नवंबर दिसंबर में शुरू हुआऔर 3 वर्ष पश्चात 2015-16 में बनकर तैयार हुई। सड़क निर्माण में भ्रष्टाचार अपने चरम पर था। 8 किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण के दौरान ही टूटना प्रारंभ हो चुका था। उस समय प्रदेश में समाजवादी पार्टी सत्तारूढ़ थी। उस कार्यकाल में उनके पिता स्वर्गीय कामेश्वर उपाध्याय खुद कैबिनेट मंत्री थे उनके मृत्यु के पश्चात सन 2013 के उपचुनाव में उनके पुत्र आशुतोष उपाध्याय खुद विधायक बने। भाजपा नेता सभा कुंवर कुशवाहा ने कहा कि नियमानुसार 5 वर्ष का संरक्षण ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को ही करना था विभाग के पास धन की कमी होने के कारण संरक्षण नहीं हो पाया। भाजपा नेता ने कहा कि भाजपा सांसद रविंद्र कुशवाहा के संतुती पर जिलाधिकारी देवरिया ने 23-12-2019 को पत्र संख्या 399/ ग्रामीण अभियंत्रण विभाग मार्ग स्थानांतरण पीआईयू देवरिया 2019-20 उत्तर प्रदेश शासन को भाटपार रानी मझौली सड़क निर्माण को स्थानांतरित करने के लिए चिट्ठी लिखा था। इस पत्र के जवाब में 25 जून 2020 को उत्तर प्रदेश शासन के विशेष सचिव गिरिजेश कुमार त्यागी ने अपने आदेश पत्र संख्या 79/2020/ 474 /23-4-2020 पीएम /2019 के तहत लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता एवं विभागाध्यक्ष को पत्र लिखकर भाटपार रानी से मझौली सड़क का लोक निर्माण विभाग के स्टेट खंड को स्थानांतरण करने की अनुमति प्रदान की। सभा कुंवर कुशवाहा ने कहा कि 3 सितंबर 2020 को दिशा की बैठक में सांसद सलेमपुर रविंद्र कुशवाहा ने इस मुद्दे को पुनः गंभीरतापूर्वक उठाया जहां जनपद के संबंधित विभाग के अधिकारियों ने तत्काल काम चलाऊ मरम्मत कराने का आश्वासन दिया। बरसात के बाद पीडब्ल्यूडी द्वारा टेंडर करा कर नए सिरे से सड़क निर्माण का कार्य करा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के शासनकाल में केवल विकास के नाम पर लूट किया गया और अपने आप को अखिलेश यादव विकास पुरुष साबित करने में लगे हुए थे। उसी के तर्ज पर भाटपार रानी के विधायक आशुतोष उपाध्याय अपने आप को क्षेत्र का विकास पुरुष कहते हैं लेकिन 2002 से लेकर अब तक उनके ही परिवार में भाटपार रानी की विधायकी रही है। उनके पिताजी उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री भी थे लेकिन कोई विशेष योजना भाटपार रानी विधानसभा क्षेत्र के लिए सपा के शासनकाल में उन्होंने नहीं लाया। जिसका लाभ क्षेत्र की जनता को मिल सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button