क्षेत्र पंचायतों के प्रमुखों का कार्यकाल मध्य रात्रि से हुआ समाप्त-डीएम

देवरिया। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने निदेशक पंचायती राज के निर्गत पत्र के हवाले से बताया है कि क्षेत्र पंचायतों के प्रमुखों का कार्यकाल आज 17 मार्च के मध्य रात्रि को समाप्त हो रहा है, जिस हेतु पंचम वित्त आयोग एवं 15वें वित्त आयोग अन्तर्गत क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष की ई-ग्राम स्वराज/ पी०एफ0एम०एस0 पोर्टल पर डी०एस०सी अन रजिस्टर्ड किये जाने एवं जिला निधि के आहरण-वितरण पर रोक लगाये जाने के निर्देश दिये गये हैं। जिलाधिकारी ने उपरोक्त निर्देश के कम में जनपद स्तर पर यह सुनिश्चित किये जाने का निर्देश दिया है कि कार्यवाही की जानी है क्षेत्र पंचायत प्रमुख द्वारा चेकर के रूप में कोई भी भुगतान 17 मार्च अथवा कार्यकाल समाप्त होने के बाद ई-ग्राम स्वराज, पी०एफ०एम०एस० अथवा चेक के माध्यम से न किया जाय। समस्त क्षेत्र पंचायत के प्रमुखों की डी0एस०सी० ई ग्राम स्वराज, पी०एफ०एम०एस० अथवा चेक के माध्यम से न किया जाय।

क्षेत्र पंचायत की डी०एस०सी० का कैंसिलेशन पी0एफ0एम०एस0/ई0ग्राम स्वराज प्रणाली से एप्रूव होने के उपरान्त शासन द्वारा नामित चेकर की डी0एस0सी0 पी0एफ०एम०एस०/ ई-ग्राम स्वराज पर रजिस्टर्ड किया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा है कि मुख्य विकास अधिकारी सम्बन्धित सभी बैंकों को इस सम्बन्ध में लिखित रूप से अवगत कराते हुए सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारियों के माध्यम से यह सुनिश्चित करेंगे कि क्षेत्र पंचायत प्रमुख द्वारा पूर्व की तिथि के जारी चेको/डिजिटल सिग्नेचर के माध्यम से प्राप्त किसी तरह का भुगतान सम्बन्धित बैंक द्वारा न किया जाय। आज अथवा कार्यकाल समाप्ति होने के निर्धारित तिथियों के उपरान्त यदि पी०एफ०एम०एस0/ ई-ग्राम स्वराज/क्षेत्र निधि से क्षेत्र पंचायत प्रमुख द्वारा कोई एफ0टी0ओ एप्रूव अथवा आहरण-वितरण किया जाता है, तो इसके लिए सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी एवं शाखा प्रबन्धक व्यक्तिगत रूप से उत्तरदायी होंगे। उन्होने उपरोक्त कार्यवाहियों को सुनिश्चित कराये जाने के साथ ही सभी खंड विकास अधिकारियों को इसका पालन अनिवार्य रुप से कराये जाने के निर्देश दिये है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button