दबंगों के खिलाफ आधी रात को धरने पर बैठी महिलाएं, पुलिस पर लगाया धक्का-मुक्की का आरोप

देवरिया । देवरिया जिले में दबंगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के बाद भी कार्रवाई न होने पर एक पीड़ित परिवार गुरूवार की आधी रात को शहर के सुभाष चौक पर धरने पर बैठ गया। सुनवाई नहीं होने पर शुक्रवार की सुबह सिविल लाइन रोड पर सामाजिक दूरी का पालन करते हुए पीडित महिलाओं ने सड़क पर जाम लगा दिया।

दबंगों के खिलाफ आधी रात को धरने पर बैठी महिलाएं, पुलिस पर लगाया धक्का-मुक्की का आरोप

मौके पर पहुंचे सदर एसडीएम और सीओ ने धरना समाप्त करने को कहा तो पीड़ित पक्ष इस मामले में कार्रवाई करने की मांग करने लगा। इस मामले को लेकर पुलिस और महिलाओं में झड़प हुई। धक्का-मुक्की के बाद पुलिस ने सभी को महिला थाने भेज दिया।
शहर के रामगुलाम टोला निवासी विजय मद्धेशिया का अपने पड़ोसी से करीब दो माह पहले विवाद हुआ था।

इस मामले में नामजद तहरीर पर लूट सहित अन्य मामलों में मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन पुलिस ने किसी की गिरफ्तारी नहीं की। पीड़ित ने आरोप लगाया है कि रात में कुछ मनबढ़ लोगों ने उसका गेट तोड़ दिया। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई।

एक दरोगा मौके पर पहुंचे तो वह उल्टे पीड़ित परिवार से ही दुर्व्यहार करने लगे। महिला का आरोप है कि दरोगा ने उसकी पुत्री के साथ गलत तरीके से पेश आए । इससे नाराज विजय और अन्य महिलाएं कोतवाली पहुंची और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगी लेकिन पुलिस ने उनकी एक न सुनी मजबूरन पीडित परिवार सुभाष चौक पर धरने पर बैठ गई।

शुक्रवार को सुबह करीब नौ बजे महिलाएं कोतवाल और एसएसआई के खिलाफ कार्रवाई की मांग लेकर सड़क पर धरना देने लगी। इसके कारण सिविल लाइन रोड पर वाहनों की लंबी कतारे लग गई। कुछ देर बार एसडीएम सदर सौरव सिंह, सीओ पंचम लाल, श्रीयश त्रिपाठी मौके पर पहुंचे और समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन पीड़ित दबंगों पर कार्रवाई की मांग करने लगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button